कोरोना संकट से निपटने कड़ाई से हो पाबंदियों पर अमल - मुख्यमंत्री चौहान
April 7, 2020 • Admin

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना संकट से निपटने के लिए हम सबको पाबंदियों पर कड़ाई से अमल करना होगा। उन्होंने कहा कि समस्या को बढ़ने से रोकने के लिए हमें सभी जरूरी कदम उठाने होंगे। मुख्यमंत्री ने आज प्रदेश की जनता को वीडियो के माध्यम से यह जानकारी दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाहर से आए कुछ लोगों की वजह से भोपाल में समस्याएं बढ़ी हैं। हमें हर हाल में भोपाल को हॉटस्पॉट बनने से रोकना होगा। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान बिना अपरिहार्य कारण के बाहर निकलने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। समस्या बड़ी है तथा इसे और अधिक व्यापक रूप लेने से रोकना होगा। किसी भी व्यक्ति को उसकी नासमझी से समस्याओं में इजाफा करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। श्री चौहान ने कहा कि व्यापक जनहित में हम सभी को काम करना होगा और थोड़ी-बहुत असुविधाएं भी बर्दाश्त करनी होगी।

मुख्यमंत्री ने आशा कार्यकर्ताओं से भी की बात

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत आशा कार्यकर्ता, ए.एन.एम. तथा स्टाफ नर्स से टेलीफोन पर बातचीत कर कोरोना नियंत्रण के लिए जमीनी स्तर पर हो रहे काम की जानकारी ली। श्री चौहान ने आशा कार्यकर्ता बीनू सोनू से मैदानी स्थितियों के बारे में ब्यौरा लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के जमीनी अमले द्वारा मौजूदा हालात में किया जा रहा काम तारीफ के काबिल है।

इन्दौर की स्टाफ नर्स ज्योतिका चतुर्वेदी से चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिस प्रकार दिन-रात आप अपना काम कर रही हैं, उसके लिए पूरा प्रदेश आपका आभारी है। ज्योतिका ने कहा कि हम मिलजुल कर हर हाल में कोरोना को हरायेंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इन्दौर की स्टाफ नर्स दीपशिखा गंगराडे को धन्यवाद देते हुए कहा कि कोरोना से संघर्ष वास्तव में आप लोगों की अदम्य क्षमता और जिजीविषा का परिचायक है। उन्होंने कहा कि आप लोगों की दिन-रात की मेहनत प्रशंसनीय है। श्री चौहान ने भोपाल की ए.एन.एम. पूर्णिमा पाण्डे से भी चर्चा की।